HBSE 6th Class Hindi Vyakaran संज्ञा

Haryana State Board HBSE 6th Class Hindi Solutions Hindi Vyakaran Sangya संज्ञा Exercise Questions and Answers.

Haryana Board 6th Class Hindi Vyakaran संज्ञा

नीचे लिखे वाक्यों को पढ़िए और रेखांकित शब्दों पर ध्यान दीजिए :
1. दिव्या खड़ी है।
2. वह गन्ना चूस रही है।
3. गन्ने में मिठास है।
पहले वाक्य में ‘दिव्या‘ एक लड़की (व्यक्ति) का नाम है।
दूसरे वाक्य में ‘गन्ना‘ एक वस्तु का नाम है।
तीसरे वाक्य में ‘मिठास‘ एक गुण का नाम है।
इन वाक्यों में दिव्या, गन्ना, मिठास शब्द संज्ञाएं हैं।

किसी व्यक्ति (प्राणी), वस्तु, स्थान, गुण या भाव के नाम को संज्ञा कहते हैं।

संज्ञा के कुछ उदाहरण देखिए :

  • व्यक्तियों (प्राणियों) के नाम – स्वाति, गौरव, सौरभ, बालक, हाथी, शेर, गाय आदि।
  • वस्तुओं के नाम – मेज़, कुर्सी, कमीज़, ताजमहल आदि।
  • स्थानों के नाम – आगरा, दिल्ली, मुम्बई, नगर आदि।
  • गुणों या भावों के नाम – मिठास, ईमानदारी, बुढ़ापा, सच्चाई आदि।

संज्ञा के कार्य : वाक्य में संज्ञा शब्द कई कार्य करते हैं :

  • कर्ता के रूप में – रमेश पुस्तक पढ़ता है।
  • कर्म के रूप में – रमेश ने पुस्तक को पढ़ा।
  • पूरक के रूप में – रमेश डाक्टर है।
  • क्रिया विशेषण के रूप में – रमेश घर पर है।

HBSE 6th Class Hindi Vyakaran संज्ञा

संज्ञा के भेद (Kinds of Noun) :
मुख्य रूप से संज्ञा के तीन भेद हैं : व्यक्तिवाचक, जातिवाचक, भाववाचक संज्ञा।
1. व्यक्तिवाचक संज्ञा (Proper Noun): जिस संज्ञा से किसी विशेष व्यक्ति, वस्तु अथवा स्थान का बोध हो, उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं।
जैसे- महात्मा गांधी, ताजमहल, लाल किला।

2. जातिवाचक संज्ञा (Common Noun) : जो संज्ञा शब्द किसी विशेष व्यक्ति या स्थान को न बताकर सम्पूर्ण जाति का बोध कराए, उसे जातिवाचक संज्ञा कहते हैं।
जैसे- गाय, बालक, पुस्तक, घर।

व्यक्तिवाचक संज्ञा का जातिवाचक संज्ञा के रूप में प्रयोग
जयचंदों के कारण ही देश को गुलाम होना पड़ा।
[यहाँ ‘जयचंद’ व्यक्ति विशेष न रहकर देशद्रोहियों का प्रतीक बन गया है, अतः यह प्रयोग जातिवाचक संज्ञा का है।]

जातिवाचक संज्ञा का व्यक्तिवाचक संज्ञा के रूप में प्रयोग गांधीजी ने भारत को स्वतंत्र कराया।
[‘गांधी’ जातिसूचक शब्द होते हुए भी यहां महात्मा गांधी के लिए प्रयुक्त हुआ है, अत: यह व्यक्तिवाचक संज्ञा का प्रयोग माना जाएगा।]

3. भाववाचक संज्ञा (Abstract Noun) :
जो संज्ञा शब्द किसी गण, दशा या भाव का बोध कराएँ, भाववाचक संज्ञा कहलाते हैं। जैसे- बुढ़ापा, सुंदरता, मित्रता, गरीबी आदि।

HBSE 6th Class Hindi Vyakaran संज्ञा

भाववाचक संज्ञाएँ बनाना (Formation of Abstract Noun) :
भाववाचक संज्ञाएँ पांच प्रकार के शब्दों से बनाई जाती हैं :
1. जातिवाचक संज्ञा से
सज्जन – सज्जनता
विद्वान – विद्वत्ता
मनुष्य – मनुष्यता
पशु – पशुता
शत्रु – शत्रुता
मित्र -मित्रता
साधु – साधुता
कवि – कवित्व
चोर – चोरी

2. विशेषण से-
सुंदर – सुंदरता
आलसी – आलस्य
मीठा -मिठास
सफेद – सफेदी
काला – कालिमा
हरा – हरियाली
चतुर – चतुरता/चतुराई
भोला – भोलापन
मधुर – मधुरता

3. सर्वनाम से-
अपना – अपनापन
मम – ममता
आप – आपा
सर्व – सर्वस्व
अहं – अहंकार
निज – निजत्व

HBSE 6th Class Hindi Vyakaran संज्ञा

4. क्रिया से
उठना – उठान
पढ़ना – पढ़ाई
भूलना – भूल
धकना – थकावट
उतरना – उतराई
हारना – हार

5. अव्यय से
समीप – समीपता
निकट – निकटता

विशेष :
अंग्रेजी व्याकरण के प्रभावस्वरूप संज्ञा के दो अन्य भेद भी माने जाते हैं :
1. समुदायवाचक संज्ञा (Collective Noun) : समूह, गिरोह, झुंड या दल का बोध कराने वाले शब्द समूहवाचक संज्ञा कहलाते हैं। जैसे- सभा, सेना, कक्षा।
2. द्रव्यवाचक संज्ञा (Material Noun) : जिन संज्ञा शब्दों से किसी द्रव्य, पदार्थ, धातु आदि का बोध होता है, उन्हें द्रव्यवाचक संज्ञा कहते हैं।
जैसे- सोना, चाँदी, घी, तेल, कोयला, लोहा।

अभ्यास

1. सही कथनों के लिए ✓ चिह्न तथा गलत कथनों के लिए ✗ चिह्न लगाइए :
(क) ‘मौता’ जातिवाचक संज्ञा है। ।
(ख) ‘मिठास’ भाववाचक संज्ञा है।
(ग) ‘नगर’ व्यक्तिवाचक संज्ञा है।
(घ) ‘सोना’ द्रव्यवाचक संज्ञा है।
(ङ) ‘सेना’ समुदायवाचक संज्ञा है।

2. सही उत्तर के चारों ओर गोल दायरा लगाओ
(क) जो शब्द किसी विशेष व्यक्ति, वस्तु या स्थान का बोध कराए, उसे- जातिवाचक संज्ञा कहते हैं।

  • व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं।
  • भाववाचक संज्ञा कहते हैं।
  • द्रव्यवाचक संज्ञा कहते हैं।

HBSE 6th Class Hindi Vyakaran संज्ञा

(ख) जो शब्द किसी जाति का बोध कराए उसे- व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं।

  • जातिवाचक संज्ञा कहते हैं।
  • समुदायवाचक संज्ञा कहते हैं।

(ग) जिसमें किसी वस्तु/व्यक्ति के भाव अथवा गुण की बात होती है, उसे-

  • जातिवाचक संज्ञा कहते हैं।
  • भाववाचक संज्ञा कहते हैं।
  • द्रव्यवाचक संज्ञा कहते हैं।

3. निम्नलिखित शब्दों में से व्यक्तिवाचक, जातिवाचक, भाववाचक, व्यवाचक, समुदायवाचक छांटकर लिखें:
बुढ़ापा, गीता, विद्यार्थी, नारी, अध्यापक, उत्तम, ताजमहल, गंगा, कोमलता, बहन, नदी, पर्वत, हिमालय, सेना, सोना, घी, दल।

4. भाववाचक संज्ञा बनाओ : चोर, साधु, युवक, नारी, काला

Leave a Comment

Your email address will not be published.